जयपुर संगीत महोत्सव’ में हुआ गुणीजनों का सम्मान

जयपुर। जयपुर संगीत महाविद्यालय झोटवाड़ा जयपुर द्वारा आयोजित जयपुर संगीत महोत्सव जवाहर कला केंद्र में सोमवार को आयोजित किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत राग पूरिया धनाश्री के तराने से हुई जिसमें महाविद्यालय के होनहार विद्यार्थियों ने असरदार ताने और नोम तोम की लयकारी दिखाई इसके बाद शिव शास्त्रीय नृत्य जिसमें कत्थक के तोडे सलामी और चक्रधार तिहाईओ की लड़ी का जबरदस्त प्रदर्शन रहा।

संगीत महोत्सव में दिल्ली से आए मोहित गंगानी और निशित गंगानी की तबला जुगलबंदी में पेशकार कायदा रेला लड़ी आदि प्रस्तुत किए गए और सभी श्रोता गणों से वाहवाही लूटी। साथ ही दिल्ली से आए राजेंद्र गंगानी के पुत्र संजीत गंगानी का शुद्ध कथक नृत्य प्रस्तुत किया गया जिसमें जयपुर घराने की बंदिशें और फुटवर्क का अच्छा प्रदर्शन रहा।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि निशा शर्मा महिला राजस्थान ब्राह्मण महासंघ के उपाध्यक्ष रही और विशिष्ट अतिथि एस ए आर कंस्ट्रक्शन एंड डेवलपर्स के डायरेक्टर राज कुमावत और मनीष मित्तल डायरेक्टर सीएमए ट्रंकी प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड रहे। शालिनी श्रीवास्तव जो कि पब्लिश्ड राइटर, एडिटर और हिलव्यू ग्रुप की डायरेक्टर है उन्होने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

जयपुर संगीत महोत्सव में गुणीजनों का सम्मान भी किया गया जिसमें डॉ मधुभट्ट तैलंग को सुर मणि  2019 और विमल सिंह तंवर को श्रेष्ठ पत्रकार 2019 की उपाधि देकर सम्मानित किया गया। साथ ही राज कुमावत को सर्वश्रेष्ठ इंटीरियर डिजाइनिंग 2019 से सम्मानित किया गया और रमेश कुमार भाटिया जी को श्रेष्ठ संगीत और साउंड अरेंजर 2019 की उपाधि से सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में सारंगी पर आमिर उद्दीन खान, हारमोनियम पर राजेंद्र मेवाल और तबले पर तपन जैन ने संगत करी। संस्था सचिव राम शर्मा ने बताया कि जयपुर संगीत महाविद्यालय द्वारा जयपुर संगीत महोत्सव हर साल आयोजित किया जाता है जिसमें देश और विदेश के अच्छे कलाकार भाग लेते